Ayodhya Judgment Should Be Reviewed

सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या में विवादित ज़मीन पर मुस्लिम पक्ष का दावा ख़ारिज करते हुए हिंदू पक्ष को जमीन देने को कहा है सुप्रीम कोर्ट के इस निर्णय से हिंदुस्तान की राजनीति और समाज में क्या बदलाव आएगा उसको विस्तार से बता रहे है प्रोफ़ेसर अपूर्वानंद।
Like our work? Click here to support The Wire: thewire.in/support
The founding premise of The Wire is this: if good journalism is to survive and thrive, it can only do so by being both editorially and financially independent. This means relying principally on contributions from readers and concerned citizens who have no interest other than to sustain a space for quality journalism. As a publication, The Wire will be firmly committed to the public interest and democratic values.
We publish in four different languages!
For English, visit www.thewire.in
for Hindi: thewirehindi.com/
for Urdu: thewireurdu.com
for Marathi: marathi.thewire.in
If you are a young writer or a creator, you can submit articles, essays, photos, poetry - anything that’s straight out of your imagination - to LiveWire, The Wire’s portal for the young, by the young. livewire.thewire.in/
You can also follow The Wire’s social media platforms and engage with us.
Facebook
TheWire/
TheWireHindi/
TheWireUrdu/
TheWireMarathi/
Twitter
thewire_in
thewirehindi
TheWireUrdu
TheWireMarathi
livewire
Instagram
thewirein
livewirein
Don’t forget to hit the subscribe button to never miss a video from The Wire!

टिप्पणियाँ

  1. Samsung

    Samsung4 दिन पहले

    N

  2. Vipin Sharma

    Vipin Sharma4 दिन पहले

    9 नवंबर को इसके घर उठावना हो गया 😊😊

  3. Saba Abbasi

    Saba Abbasi5 दिन पहले

    Asl की जो रिपोर्ट है उस् का को ई मतलब नही र ह जाता है जब कोर्ट ने बो ल् दिया कि मंदिर तोड़ कर मस्जिद नही बनाई गई,,,, बस ज़ज़् बिक गये ये सच्चा ई है,,

  4. Saba Abbasi

    Saba Abbasi5 दिन पहले

    एकदम सही बात बोली आप ने हिंदू झूठे होते है ,, झुटो के पछ् मेे फैं सला दिया सुप्रीम कोर्ट ने

  5. Sandeep Gupta

    Sandeep Gupta6 दिन पहले

    सदमे में न्यूज सुना रहा है 😂😂😂

  6. Peri Kamesh

    Peri Kamesh8 दिन पहले

    JUDGEMENT OF SUPREME COURT IS VERY FAIR.ALL MUSLIMS OF INDIA ACCEPTED THIS DECISION. WIRE IS PRESENTING THIS ISSUE IN VERY IMMATURED WAY. IF WIRE DOES NOT CHANGE THEIR PRESENTATION IN RIGHT WAY,PEOPLE OF INDIA STOP FOLLOWING THIS ANTI NATIONAL MEDIA CHANNEL

  7. Azad Patel

    Azad Patel9 दिन पहले

    Please see this brilliant video by TRT WORLD TURKEY and don’t forget read the comments in-gos.info/vidiyo/1YOZqrC0qteQqG0.html

  8. RAMENDRA KUMAR

    RAMENDRA KUMAR10 दिन पहले

    You are the most haramkhor and a idiot. You tell all things but not tell what Supreme Court tell for ASI report. In supreme Court judgement it is tell that Moseque was not made on vacant place.

  9. RAMENDRA KUMAR

    RAMENDRA KUMAR10 दिन पहले

    Abe laude nikal pahle fursat m

  10. Sonu Khan

    Sonu Khan10 दिन पहले

    Nice

  11. Ramesh Chillal

    Ramesh Chillal11 दिन पहले

    Bhai es adami ka elaj kara o

  12. Eagle Vision

    Eagle Vision11 दिन पहले

    Actually I want one video per day by Dr. professor apurvanand jha

  13. Injmam Khan

    Injmam Khan11 दिन पहले

    Aap jase logo ki wajah se duniya kayem ha iman kisi ki jagir nahi kisi ke pas ho Santa ha

  14. Alhaj Arif

    Alhaj Arif11 दिन पहले

    यह बहुत अच्छा लिखा गया फैसला है सुप्रीम कोर्ट तो सुप्रीम है जनाब वह कुछ भी कर सकता है हिन्दू समाज को ऐसा फैसला चाहिए था वह उन्हें मिल गई बाकी को जाने दो

  15. आयुष सिंगसार्वा

    आयुष सिंगसार्वा14 दिन पहले

    एक गाँव था ,एक दिन कुछ लुटेरे आए और गाँव को लूटा ,कई हत्याएं की बल्तकार किए और गाँव मे ही गाँव की जमीन घर पर कब्जा कर के वही रहने लगे, लुटेरों गाँव की मन्दिरो को तोड़ कर वहाँ अपने धर्मस्थल बना लिए,,,कई पीढ़ी गुजर गई गाँव वाले उन लुटेरों के बच्चो से घुल मिल गए,उन्हें गाँव से भगाया नही , उन्हें बराबर का अधिकार दिया,पर उनके कुछ लोगों में अब भी लुटेरों का खून बह रहा था ,जब दोनों पक्ष बराबर हुए तो फिर लड़ाई हुई गाँव को बांट दिया गया,,,,कुछ लोग यही रुक गए,,गाँव वाले फिर अपने भगवान की मंदिर बनाना चाहते थे उन्होंने अदालत का रास्ता अपनाया जबकि वो उसे तोड़ कर बना सकते थे,,, अदालत ने फैसला गाँव वालों के पक्ष मे फैसला सुनाया क्योकि वो गाँव वालों की जमीन थी,,,पर कुछ कथाकथि बुद्दिजीवी को ये पसन्द नही आ रहा

  16. Anirudh D

    Anirudh D14 दिन पहले

    Please read whole Supreme Court Judgement... Not only picked your favourite one Its your responsibility to represent judgement as it is

  17. Siddhant Mishra

    Siddhant Mishra14 दिन पहले

    कोर्ट यह भी कह रहा है कि 12वीं शताब्दी तक वहां मंदिर था 1860 तक वहां पूजा भी होती थी, जो ढांचा मिला वह गैर इस्लामिक था। पुरातत्व विभाग ने वहां पर मंदिर के अवशेष बताए। इतिहास में इतने यात्रियों के ब्योरे भी हैं। मूर्ख तो तुम वामपंथी आज तो बनाते आए हो

  18. Siddhant Mishra

    Siddhant Mishra14 दिन पहले

    तेरा असली बाप कौन है इस पर तू विचार कर

  19. Nasajaaz

    Nasajaaz14 दिन पहले

    *सुप्रीम कोर्ट का फैसला खुद का नहीं बल्कि आर एस एस का लिखा और हम यह बात भी खुल कर कह रहे हैं कि मस्जिद वहीं बनाएंगे तुम जबरदस्ती मंदिर बना लोगे तो हम से तोड़कर मस्जिद बनाएंगे*

  20. Raja Navab

    Raja Navab15 दिन पहले

    Mujhe bhi aisa lag rha tha

  21. Bhanuprakash Khadiya

    Bhanuprakash Khadiya15 दिन पहले

    Muslim Bhai apko darne ki aavsakta nhi hai st sc ke log apke sath hai

  22. Bhanuprakash Khadiya

    Bhanuprakash Khadiya15 दिन पहले

    Hindu ko gand me bati lagani Ki aavsakta hai

  23. Dr. Nirmal Raj

    Dr. Nirmal Raj15 दिन पहले

    SC ne nyay nahi Kiya.

  24. Md Faizan

    Md Faizan16 दिन पहले

    Haq bat boli aap ne or sach kardwa lag rah he logo ko

  25. Sk Arfan

    Sk Arfan16 दिन पहले

    You are right sir Jor Jiski Duniya uski Duniya Ke Sabse Bade Uchch nyayalay Nevi Insaaf nahin kiya

  26. Manoj Sahu

    Manoj Sahu16 दिन पहले

    Tere jais hajar kutte aa ye tum sirf bhaunkte rahoge

  27. Manoj Sahu

    Manoj Sahu16 दिन पहले

    Tune bhadve ka baccha hai.... Tere time ayega re.... Desh ko gumrah kar raha hai bhadva....

  28. Sk Mujeeb

    Sk Mujeeb16 दिन पहले

    I love u sar.

  29. Sk Mujeeb

    Sk Mujeeb16 दिन पहले

    Aap shac bolte ho.allha ap ko accha rakhe.duwa kare get ap k liye

  30. Abhishek Pandey

    Abhishek Pandey16 दिन पहले

    इस गधे ने एक बार भी ASI की रिपोर्ट के बारे में कुछ नहीं बोला 1857 के पहले का भी बता हरामखोर

  31. Sach ki Awaz

    Sach ki Awaz16 दिन पहले

    ईमानदार चैनल। सच्चा हिन्दू पत्रकार।

  32. rabatha 273

    rabatha 27317 दिन पहले

    Two nation Theory Zindabad....Jinnah Fore saw the Rise of Hindunazii.....Pakistan Zindabad...Khalistan Jindabad...Kashmir Azadii Zindabad....

  33. imlaq Ahmad kohi

    imlaq Ahmad kohi17 दिन पहले

    Honorable Professor Apoorvanand. Thanks for Honest Journalism & Bold Reporting. You are truly an ideal citizen, & a Patriot & true Hindu. Jai Hind

  34. Subhash Yadav

    Subhash Yadav17 दिन पहले

    He LIES so confidently. He never read the judgement I'm sure about it.

  35. pnb Kaur

    pnb Kaur17 दिन पहले

    your air rait

  36. Tahsin Raza

    Tahsin Raza17 दिन पहले

    Masjid bana Allah ho akbar

  37. Anil Ghureya

    Anil Ghureya17 दिन पहले

    फैसले मे कोई गलती नही है सुप्रीम कोर्ट ही सर्वोच्य हैन सब मोहम्मद अपूर्वानन्द को हमेशा हिन्दूओ मे ही कमी दिखती हैं यह लोग हिन्दू ओर भाजपा का विरोद्ध करते करते सुप्रीम कोर्ट का विरोध करने लग गये हैं इनका इलाज जरुरी हैं

  38. Mdarman Hussin

    Mdarman Hussin17 दिन पहले

    Ham musalman chaup nahi rhige

  39. pramod mahto mahto

    pramod mahto mahto17 दिन पहले

    keya aap Log bharkanewale bat nahi karte,

  40. PANKAJ KUMAR SINGH

    PANKAJ KUMAR SINGH17 दिन पहले

    Sale court ne agar awmanana ka sangyan Tere par liya to saja wahi court karega fir sahi aur galat batate rahna chutiya Sala kamina